शनिदेव की हमेशा बरसेगी कृपा, बस मुख्य द्वार पर लगाएं यह पौधा

कुछ लोग शनि देव की कृपा पाने के लिए घर के अंदर ही शमी का पौधा लगाते हैं। लेकिन इसे घर के अंदर लगाने के स्थान पर इसे आंगन में या फिर मुख्य द्वार पर इस तरह लगाएं कि जब भी आप घर से बाहर निकलें तो यह आपके दाहिने तरफ हो।

हिन्दू धर्म में शनिदेव एक बेहद ही महत्वपूर्ण देवता माने गए हैं। भगवान सूर्य तथा छाया के पुत्र शनिदेव को न्याय के देवता के रूप में पूजा जाता है। ऐसा कहा जाता है कि कलियुग में भी वह निष्पक्ष से रूप से न्याय करते हैं। अगर उनकी कृपा किसी व्यक्ति पर हो तो व्यक्ति को कम समय में बड़ी सफलता मिलती है। वहीं, अगर वह किसी पर कुपित हो जाते हैं तो व्यक्ति का सर्वनाश होते भी देर नहीं लगती। इसलिए, लोग हमेशा यह कोशिश करते हैं कि शनि देव उनसे हमेशा प्रसन्न रहें। अगर आप भी ऐसा ही चाहते हैं तो अपने घर के बाहर शमी के पौधे को लगाएं। इसे शनिदेव का प्रिय पौधा माना गया है। तो चलिए जानते हैं किस तरह लगाएं शमी का पौधा-

घर में ना लगाएं शमी का पौधा

कुछ लोग शनि देव की कृपा पाने के लिए घर के अंदर ही शमी का पौधा लगाते हैं। लेकिन इसे घर के अंदर लगाने के स्थान पर इसे आंगन में या फिर मुख्य द्वार पर इस तरह लगाएं कि जब भी आप घर से बाहर निकलें तो यह आपके दाहिने तरफ हो। कभी भी अंधेरे स्थान में इसे नहीं रखना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि अगर घर में आते समय या घर से बाहर जाते समय व्यक्ति की आंखों के सामने यह पौधा होता है तो व्यक्ति के काम आसानी से बन जाते हैं और आने वाली अड़चनें दूर होती हैं।

धार्मिक रूप से भी है महत्वपूर्ण

शमी का पौधा ना केवल शनिदेव को प्रिय है, बल्कि इसका अपना एक धार्मिक महत्व भी है। पौराणिक कथाओं के अनुसार, जब प्रभु श्रीराम ने सीताजी को छुड़वाने के लिए लंका पर आक्रमण किया था, तो उससे पहले उन्होंने शमी के पौधे की ही पूजा की थी। महाभारत काल में भी इसका वर्णन मिलता है। ऐसा कहा जाता है कि जब पांडव अज्ञातवास में थे, तब उन्होंने अपने अस्त्र-शस्त्र इसी वृक्ष के नीचे छिपाए थे।

शनिदेव के गुरू शिवजी का भी है प्रिय

यह तो हम सभी जानते हैं कि देव आदिदेव महादेव को बेलपत्र बेहद ही प्रिय है। लेकिन इसके अलावा, शंकर भगवान को शमी का पौधा भी उतना ही पसंद है। इतना ही नहीं, शिवजी को शनि अपना गुरु मानते हैं। ऐसे में अगर व्यक्ति शमी का पौधा लगाता है, तो उसे शनिदेव और शिव भगवान दोनों की कृपा मिलती है।

ना करें यह गलतियां

जब आप घर में शमी का पौधा लगा रहे हैं तो आपको कुछ गलतियों से बचना चाहिए। मसलन-

– शमी के पौधे को किसी भी दिन घर में ना लगाएं। इसे शनिवार के दिन या विजयदशमी के दिन लगाना सबसे अच्छा माना जाता है।

– कभी भी इसे घर के अंदर बंद जगह पर ना लगाएं। आप इसे आंगन में लगा सकते हैं या फिर छत पर रख सकते हैं। इसके अलावा, मुख्य द्वार के बाहर भी इसे रखा जा सकता है।

– अगर आपने शमी का पौधा लगाया है तो उसे ऐसे ही छोड़ देने की गलती ना करें, अन्यथा शनिदेव कुपित हो जाते हैं। इसकी सही तरह से देख-रेख करें। साथ ही, हर शनिवार को शमी के पौधे के नीचे दीपक जलाएं।

– चूंकि भगवान शिव को भी शमी का पौधा प्रिय है, इसलिए शिव भगवान की पूजा करते हुए इस पौधों के पत्ते चढ़ाएं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *