Aries Zodiac के जातकों का साल 2023 में क्या रहेगा भविष्यफल, जानिए

ज्योतिषाचार्य डा.अनीष व्यास ने बताया कि कैरियर के मामले में बेहतरीन परिणाम मिलेंगे। दशम भाव के स्वामी शनि जनवरी माह में कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे जोकि कॅरियर के मामले में कुछ नई उपलब्धियां और आमदनी में बढ़ोतरी का संकेत करते हैं।

पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर जोधपुर के निदेशक ज्योतिषाचार्य डा. अनीष व्यास ने बताया कि वर्ष 2023 के दौरान अपने जीवन के कई महत्वपूर्ण क्षेत्रों में उपलब्धियां हासिल करने में कामयाब हो सकते हैं क्योंकि यह वर्ष आपके जीवन के लिए एक उत्तम वर्ष साबित होगा। कुछ क्षेत्रों को छोड़कर अन्य सभी महत्वपूर्ण क्षेत्रों में आपको सफलता और संभावनाएं प्राप्त होंगी, जिनका हाथ थाम कर आप अपने जीवन में सफलता का स्वाद चख सकते हैं। कुछ असमंजस की स्थिति में रहेंगे और कोई महत्वपूर्ण निर्णय लेना आपको आसान नहीं लगेगा। आपकी राशि में राहु की उपस्थिति आपको थोड़ा निरंकुश बनाएगी और आप अपने आसपास की घटनाओं को नजरअंदाज नहीं कर पाएंगे। इस वर्ष की शुरुआत में नवम भाव में सूर्य और दशम भाव में शनि की उपस्थिति होने के कारण आप अपने जीवन में कुछ ऐसा करेंगे जिससे आपको भरपूर मान सम्मान मिलेगा और लोगों के लिए प्रेरणा स्रोत बनेंगे। यह समय आपको लोकप्रियता प्रदान करेगा और यदि आप राजनीति के क्षेत्र से जुड़े हैं तो आपके लिए यह अवधि बहुत ही बढ़िया रहेगी क्योंकि आपको जनता का पूरा समर्थन मिलेगा। इसके अलावा, शासकीय लोगों से भी आपको सहयोग मिलने के प्रबल योग बनेंगे।

कैरियर 

ज्योतिषाचार्य डा.अनीष व्यास ने बताया कि कैरियर के मामले में बेहतरीन परिणाम मिलेंगे। दशम भाव के स्वामी शनि जनवरी माह में कुंभ राशि में प्रवेश करेंगे जोकि कॅरियर के मामले में कुछ नई उपलब्धियां और आमदनी में बढ़ोतरी का संकेत करते हैं। इधर अच्छे प्रमोशन के साथ आपको अच्छी सैलरी मिलेगी और आपको अपने खुद के कार्य पर गर्व ही होगा। खास बात यह है कि नए क्षेत्रों में निवेश करने से आपको इस वर्ष लाभ हो सकता है, और व्यवसाय के संबंध में नए विचारों में आपकी रुचि हो सकती है। राहु और केतु का गोचर कार्यक्षेत्र में होने वाली धोखाधड़ी और परेशानियों से सावधान रहने की सलाह दी जाती है। नौकरी में पदोन्नति के योग की प्रबल संभावनाएं इस वर्ष बनने और कार्य में सक्रियता और महत्वपूर्ण निर्णय लेने का सबसे शुभ समय अप्रैल के बाद होगा,जब देवगुरू बृहस्पति आपकी राशि पर गोचर करेंगे जबकि वहीं नवंबर और दिसंबर का महीना आपकी ऊर्जा को धीमा कर सकता है।

आर्थिक स्थिति 

विश्वविख्यात भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक डा. अनीष व्यास ने बताया कि पूरे वर्ष मेष राशि के जातकों के जीवन में आर्थिक उन्नति के योग बनेंगे और वित्तीय रूप से स्थिरता की स्थिति बनी रहेगी। हालांकि खर्चे भी लगातार बने रहने वाले हैं। एकादश भाव में शनि महाराज की उपस्थिति आपको आर्थिक तौर पर मजबूत बनाएगी और आपकी आमदनी में उत्तरोत्तर वृद्धि करेगी लेकिन द्वादश भाव के बृहस्पति अप्रैल तक लगातार धार्मिक और अन्य गतिविधियों में खर्च करवाते रहेंगे। आप काफी दान पुण्य भी करेंगे। आर्थिक दृष्टि से अप्रैल के बाद का समय शुभ परिणाम देगा, इस समय अवधि में आप आर्थिक जीवन में कोई अच्छा बदलाव होने की उम्मीद कर सकते हैं या फिर इस दौरान आपको किसी तरीके का आर्थिक लाभ भी हो सकता है लेकिन वर्ष की शुरुआत से ही राहु आपकी राशि में होंगे या समय आपके लिए संभल कर चलने का रहेगा कोई भी व्यापार या व्यवसाय साझेदारी में करने से पहले आपको अच्छी तरीके से विचार कर लेना चाहिए।

परिवार 

साल की शुरुआत उतार-चढ़ाव के बीच गुजरेगी। आप अपने काम में ज्यादा व्यस्त रहेंगे और परिवार को कम समय दे पाएंगे। ऐसा भी हो सकता है कि काम के सिलसिले पर आपको कुछ समय के लिए परिवार से दूर जाना पड़े। यही स्थिति आपको और आपके परिवार के लोगों को थोड़ी कष्ट पूर्ण लगेगी लेकिन वर्ष के मध्य में आपका ध्यान परिवार की ओर ज्यादा रहेगा। घर में शुभ मांगलिक कार्यक्रम आयोजित होंगे और शनि देव के एकादश भाव तथा देव गुरु बृहस्पति के प्रथम भाव में आने से पारिवारिक जीवन में सुख शांति और संपन्नता बढ़ेगी। साथ ही, धार्मिक और आध्यात्मिक गतिविधियों का माहौल तैयार होगा और घर के सभी सदस्य हंसी और खुशी के साथ अपना जीवन व्यतीत करेंगे। भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक डा. अनीष व्यास ने बताया कि इस वर्ष राहु और केतु का गोचर आपके प्रथम और सप्तम भाव में होने से आपके परिवारिक जीवन में कुछ परेशानी आ सकती हैं। संतान संबंधित घर में कुछ शुभ कार्य भी हो सकते हैं जो आपको खुश रख सकते हैं। अप्रैल से लेकर अगस्त तक की अवधि परिवारिक दृष्टिकोण से बेहतर रहने की संभावना है।

प्रेम-रोमांस 

भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक डा. अनीष व्यास ने बताया कि मेष राशि के जातकों के लिए प्रेम के देवता शुक्र, जोकि आपकी कुंडली में विवाह के कारक भी हैं, वह वर्ष की शुरुआत में मकर राशि में गोचर करेंगे। मकर राशि शुक्र की मित्र राशि है जिसके परिणाम स्वरूप यदि आपका प्रेम संबंध आपके दफ्तर में है, तो आपको सफलता मिलती हुई दिख रही है। यदि आप अपने ऑफिस में किसी को पसंद करते हैं, तो जनवरी और फरवरी माह उनसे अपने दिल की भावनाएं कहने के लिए सर्वश्रेष्ठ रहेगा। बेझिझक होकर अपना प्रेम प्रस्ताव प्रस्तुत करें। सफलता मिलने के आसार हैं। 15 फरवरी से 15 मार्च के बीच एक नए रिश्ते की शुरुआत के लिए यह समय शुभ रहेगा। उसके बाद से वर्ष 2023 के अंतिम तीन महीने बहुत ही खूबसूरत रहेंगे, साथ ही आप और आपके जीवनसाथी के बीच प्रेम बढ़ेगा और एक दूसरे के प्रति समर्पण की भावना का विकास होगा जिससे रिश्ता परिपक्व होगा। आप अपने जीवन साथी के साथ किसी तीर्थ स्थल और खूबसूरत जगह पर घूमने भी जाएंगे और अपने दांपत्य जीवन में आई नीरसता को दूर करें।

शिक्षा

भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक डा. अनीष व्यास ने बताया कि इस वर्ष मेष राशि के छात्रों को अपने शैक्षणिक जीवन में कुछ उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ेगा। आप अपनी पढ़ाई के प्रति संकल्पित होकर लगे रहेंगे और संभव है कि अपनी एकाग्रता को बनाए रखने का हर संभव प्रयास करें जिसमें आप काफी हद तक सफल भी रहेंगे। जो छात्र सफलता प्राप्त करना चाहते हैं और शीर्ष पर पहुंचना चाहते हैं, उन्हें कड़ी मेहनत करनी होगी। जो लोग सरकारी नौकरी की तलाश कर रहे हैं, उनके लिए साल के पहले भाग में सरकारी नौकरी मिलने की संभावना कम नजर आ रही है। हालांकि प्रयास हमेशा लोगों को सफल बनाते हैं। इसी तरह अतिरिक्त प्रयास करने से आपको भी वह मुकाम हासिल करने में मदद मिल सकती है, जिसे आप पाना चाहते हैं। अप्रैल से अक्टूबर के बीच का समय शिक्षा में परिणाम प्रदान करेगा और आप शिक्षा की ओर खुद ही उन्मुख हो जाएंगे। अक्टूबर से दिसंबर के बीच विदेश जाकर पढ़ने का सपना पूरा हो सकता है और विद्यार्थियों को किसी प्रतियोगिता परीक्षा में अच्छी सफलता प्राप्त हो सकती है।

स्वास्थ्य 

भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक डा. अनीष व्यास ने बताया कि स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से वर्ष की शुरुआत अच्छी नहीं रहेगी। मानसिक रूप से आप परेशान रहेंगे लेकिन अप्रैल के बाद देवगुरू बृहस्पति का गोचर आपको स्वास्थ्य संबंधी परेशानी से राहत दिलायेगा। आपकी राशि में राहु, सप्तम भाव में केतु, दूसरे भाव में वक्री मंगल, दशम भाव में शनि और शुक्र की युति तथा द्वादश भाव में बृहस्पति का होना सेहत के लिए ज्यादा अनुकूल दिखाई नहीं दे रहा है इसलिए जनवरी से लेकर अगस्त तक अपने स्वास्थ्य का खास ख्याल रखने की जरूरत पड़ेगी। विशेष रूप से मई और जुलाई के बीच का समय आपकी सेहत के लिए ज्यादा अच्छा नहीं दिखाई दे रहा है। इस दौरान बुखार, टाइफाइड या फिर विषाणु जनित समस्याएं आपको परेशान कर सकती हैं। अगस्त के बाद से आपकी सेहत में सुधार आना शुरू हो जाएगा। स्वयं के ऊपर मानसिक तनाव को बिल्कुल भी हावी ना होने दें और प्रतिदिन सुबह की सैर पर जाने की आदत डाल लें। यदि आप थोड़ा परिश्रम करेंगे तो अपने स्वास्थ्य को उत्तम बना पाएंगे और ज्यादा लंबा जीवन आराम से और शांतिपूर्ण ढंग से व्यतीत कर पाएंगे।

ज्योतिष उपाय

भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक डा. अनीष व्यास ने बताया कि हनुमान जी की आराधना करें। हनुमान चालीसा का पाठ करें। प्रत्येक मंगलवार व शनिवार को सुंदरकांड का पाठ करें। प्रत्येक मंगलवार को हनुमान जी का व्रत रखें।

– डा. अनीष व्यास

भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *